ख़बरबिहारराज्यविविध

विश्वकर्मा वंशजों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल करे सरकार : मुकुल आनंद

डेहरी ऑन सोन / रोहतास : भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की एक दिवसीय जिला कार्यकर्त्ता सम्मेलन रविवार को डेहरी ऑन सोन थाना मोड़ स्थित मिलन रेस्टुरेंट में संपन्न हुई। कार्यक्रम की अध्यक्षता भारतीय विश्वकर्मा महासंघ के दीप नारायण शर्मा तथा संचालन संजय शर्मा ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ विश्वकर्मा समाज के इष्टदेव भगवान विश्वकर्मा के तैल्य चित्र पर पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्वलन कर किया गया। कार्यकर्त्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारतीय विश्वकर्मा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकुल आनंद ने कहा कि भारतीय विश्वकर्मा महासंघ द्वारा सम्पूर्ण बिहार में जनसम्पर्क अभियान चलाया जा रहा है जिससे विश्वकर्मा वंशज जागरूक होकर एकजुट हो सकें। उन्होंने सरकार से विश्वकर्मा वंशजों जिनमें सोनार, कुम्हार, लोहार, कसेरा – ठठेरा, बढ़ई सहित शिल्पकारों को अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग की। मुकुल आनंद ने कहा कि आज विश्वकर्मा समाज के बुनियादी मुद्दों का समाधान करने की आवश्यकता है। विश्वकर्मा समाज के नौजवानों को अब नौकरी और रोजगार चाहिए। समाज के लोग जब तक एमपी, एमएलए नहीं बनेंगे तब तक विश्वकर्मा समाज के अधिकारों का हनन होते रहेगा। मुकुल आनंद ने सभी विश्वकर्मा वंशजों से एकजुट होने की अपील की। मुकुल आनंद ने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में हमारी पार्टी – गणतांत्रिक समाज पार्टी के बैनर तले हर विधानसभा सीट पर हम अपने प्रत्याशी खड़े कर उन्हें जिताने का काम करेंगे। मुकुल आनंद ने कहा कि आज रोहतास जिला कमिटी का भी गठन किया गया है जिसमें सर्वसम्मति से चन्दन सोनी (जिलाध्यक्ष), दिनेश शर्मा (जिला उपाध्यक्ष), जयशंकर मुखिया (जिला सचिव), धनञ्जय प्रजापति (जिला संगठन मंत्री), मुन्ना लाल कसेरा (जिला कोषाध्यक्ष), रामेश्वर कुमार प्रजापति (जिला युवाध्यक्ष), अर्जुन शर्मा (जिला युवा उपाध्यक्ष) व रमेश शर्मा (जिला युवा सचिव) बनाया गया है। वहीं अपने संबोधन में भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की महिला प्रदेश अध्यक्ष सुजाता शर्मा ने समाज की एकता पर बल देते हुए कहा कि किसी भी समाज की शक्ति उस समाज की संगठन पर निर्भर करती है। उन्होंने कार्यकर्त्ताओं से ज्यादा से ज्यादा युवाओं एवं महिलाओं को संगठन से जोड़ने की बात कही। जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए दीप नारायण शर्मा ने कहा कि अब हम विश्वकर्मा समाज उपेक्षा का शिकार नहीं होंगे। हम अपने नेता मुकुल आनंद के नेतृत्व में आर पार की लड़ाई लड़ेंगे। सम्मलेन में बाबल कश्यप, दिनेश शर्मा, जय शंकर शर्मा (मुखिया धौड़ाद), चंदन कुमार सोनी (मुखिया पहलेजा), मुन्ना कसेरा, प्रजापति पिंटू गुरु जी, भगवान शर्मा, रामेश्वर प्रजापति (वार्ड पार्षद), संजय, अनिल शर्मा, रमेश शर्मा, दिलीप शर्मा, काशी नाथ शर्मा, अर्जुन शर्मा, विजय शर्मा, रिंकु शर्मा, गौतम शर्मा, अर्जुन शर्मा, डॉ. रत्नेश कुमार शर्मा ने भी अपने – अपने विचार रखे। कार्यकर्ता सम्मेलन में हजारों की संख्या में विश्वकर्मा समाज के लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply